छत्तीसगढ़ बड़ी खबर

EXPOSE टेंडर खुले बिना ठेकेदार ने शुरू किया काम, मुख्य सचिव कर आए मुआयना.. राजनीतिक संरक्षण में भ्रष्टाचार! सीपीआई ने खोला मोर्चा

रायपुर- कांकेर जिले के लखनपुरी में प्रस्तावित कन्या छात्रावास के निर्माण में गड़बड़ी का आरोप सीपीआई ने लगाया है। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के प्रदेश सचिव संजय पराते ने कहा कि अपने चहेते ठेकेदार को फायदा पहुंचाने अधिकारियो ने नियमों में संशोधन कर दिया। भ्रष्टाचार की पराकाष्ठा ऐसी की टेंडर प्रक्रिया पूरी होने के पहले ही ठेकेदार ने काम प्रारंभ कर दिया है।

पीसीसी चीफ मोहन मरकाम के विधानसभा क्षेत्र के लखनपुरी में 100 बिस्तरों का बालिका छात्रावास बनाया जाना है जिसके लिए डीएमएफ फंड से साढ़े चार करोड़ रुपए जारी किया गया है।

हॉस्टल निर्माण के लिए टेंडर प्रक्रिया में है। उधर एक ठेकेदार ने टेंडर प्रक्रिया पूर्ण हुए बिना ही काम प्रारंभ कर दिया है।

चहेते को फायदा पहुंचाने नियमों को बदला

प्रस्तावित दो मंजिला हॉस्टल भवन के लिए विभाग ने टेंडर जारी किया और अपने करीबी खसरिया के ठेकेदार को फायदा पहुंचाने नियमों में संशोधन कर दिया। शुरुआत में दोमंजिला भवन के निर्माण के लिए 15 महीने का समय निर्धारित किया गया था जिसे बाद में घटाकर 6 महीने कर दिया गया। वर्तमान में टेंडर प्रक्रिया पूरी नहीं हुई है और ठेकेदार ने काम प्रारंभ कर दिया है।

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने खोला मोर्चा-

हॉस्टल भवन निर्माण में खुले तौर पर जारी भ्रष्टाचार का मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने मोर्चा खोल दिया है। पार्टी के सचिव संजय पराते ने कहा कि

हॉस्टल भवन का टेंडर पूर्ण हुए बिना निर्माण प्रारंभ होना खुले तौर पर भ्रष्टाचार को दिखता। राजनीतिक सरंक्षण में अधिकारियो ने खरसिया के ठेकेदार को ठेका दिया है, जिसके लिए उन्होंने नियमों में बदलाव किया। टेंडर काल के पूर्ण प्रारंभ निर्माण को देखने मुख्य सचिव भी पहुंचे थे।सरकार तत्काल काम पर प्रतिबंध लगाए और नियमतः ठेका जारी करे।”

गुणवत्ता पर सवाल

प्रस्तावित हॉस्टल पूर्व में 15 महीनो में निर्माण किया जाना था जिसे संशोधन कर 6 महीने कर दिया गया। ऐसे में भवन कि गुणवत्ता पर सवाल उठ रहा है। सीपीआई नेता संजय पराते ने कहा कि 15 महीने में बनाने वाले भवन अगर 6 महीने में बने तो उसकी गुणवत्ता का अंदाजा लगाया जा सकता है। ये आदिवासी बच्चियों की जान जोखिम में डालने वाला है।

इस हॉस्टल का निरीक्षण करने मुख्य सचिव आरपी मंडल विगत 5 जून को कांकेर पहुंचे थे। कलेक्टर ने 26 जून को टेंडर जारी किया है जो अभी प्रक्रियाधीन है और ठेकेदार ने मटेरियल मशीन लगाकर काम प्रारंभ कर दिया है।

 

करोडो की गड़बड़ी करने वाली डाक्टर की शिकायत ईओडब्लू पहुंची, अपराध पंजीबद्ध करने की मांग.. उधर संरक्षण देने वाली पुलिस की शिकायत एसआईबी से

 

 

-Ad-

Advertisement

-Ad-

Exclusive News

Follow Me

-Ad-

error: Content is protected !!