छत्तीसगढ़ बड़ी खबर

बारदाने की कमी से धान खरीदी ठप्प, सड़क पर उतरे किसान,,,, सरकार के खिलाफ की नारेबाजी

रायपुर-
धान खरीदी केन्द्रो में बारदाने की समस्या से किसानो का गुस्सा फुट पड़ा। प्रदेश के अलग अलग हिस्सों में किसानो ने सड़क जाम कर दिया। मंगलवार को बेमेतरा जिले के किसानो ने नवागढ़ बेमेतरा स्टेट हाईवे जाम कर दिया।सुचना पर पुलिस और राजस्व विभाग विभाग अधिकारी पहुंचे और जाम ख़त्म करने कहा। बेमेतरा कृषि मंत्री रविंद्र चौबे का गृह जिला है। वही सोमवार को केशकाल में किसानो राष्ट्रीय राजमार्ग जाम क्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी किया था। धान खरीदी में गिनती के दो दिन ही बाकि है और हजारो किसानो अभी तक नहीं बिक पाया है। सरकार के धान खरीदी की समय सीमा 5 दिन बढाकर किसानो को राहत देने की कोशिश की पर वह भी नाकाफी रहा। प्रदेश अधिकतर धान खरीदी केन्द्रो बारदानों आभाव है चलते धान खरीदी कई दिनों से बंद है।

सरकार के अपने दावे, बीजेपी ने समय बढ़ाने की मांग- किसानो को धान बेचने टोकन कटाने और बारदाने की समस्या से जूझ रहे है वही धान खरीदी को लेकर सरकार अपने दावे है। संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने बीते वर्ष से ज्यादा धान खरीदने की बाते कही। इसके लिए त्रिवेदी ने बीजेपी कार्यकाल के 15 वर्षो का आंकड़ा जारी किया। उसके बाद की किसान सड़क पर है।

वही बीजेपी ने कांग्रेस इस आकंड़े को झूठा बताते हुए सरकार पर हमला बोला है। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेंडी ने कहा कि सरकार ने किसानो के साथ दगाबाजी की है। जिसका राजनितिक कीमत सरकार को चुकानी पड़ेगी। उसेंडी ने कांग्रेस के दावों को झूठ का पुलिंदा बताया। बीजेपी के 15 सालो के सरकार में किसी भी किसान को इतनी जिल्लत झेलनी नहीं पड़ी थी जितनी अभी पड़रही है। बीजेपी खरीदी 15 मार्च तक बढ़ने की मांग की है।

-Ad-

Follow Me

Advertisement

-Ad-

Exclusive News

-Ad-

error: Content is protected !!