छत्तीसगढ़ बड़ी खबर

राजधानी मे अवैध निर्माण की बाढ, कार्यवाही के नाम पर सिर्फ नोटिस,,कार्यवाही के अभाव में धड़ल्ले से जारी अवैध निर्माण

रायपुर- बॉम्बे महानगर पालिका ने अवैध निर्माण पर फिल्म अभिनेत्री का दफ्तर तोड़ दिया जिसकी देश भर में चर्चा हो रही है। वही राजधानी की नगर पालिका प्रशासन शहर के अवैध निर्माणों को हटाने में चुप्पी साधे हुए है।

राजधानी में कारोबारियों ने निगम के अनुमति के विपरीत बड़े बड़े काम्प्लेक्स, होटल्स, शॉपिंग मॉल और स्कूल बनाया है। राजधानी मे करीब 5000 से अधिक ऐसे अवैध निर्माण है जिस पर निगम के कार्यवाही की दरकार है। राजधानी में व्यापारियों ने नाम मात्र की अनुमति लेकर पांच से छह मंजिला भवन बना दिया है जिसकी शिकायत के बाद भी कार्यवाही नहीं हो रही है। निगम प्रशासन इन कारोबारियों पर मेहरबान है।

कपडा व्यापारी ने आवासीय क्षेत्र में बनाया शॉपिंग मॉल-

राजधानी के रहवासी इलाके पंडरी में कपडा व्यापारी मदन लोढ़ा ने निगम की अनुमति के विपरीत चार मंजिला भवन तान दिया। निगम ने नोटिस जारी कर निर्माण रोकने कहा पर कारोबारी ने सीना फुलाते हुए निर्माण जारी रखा। शिकायत के बाद अधिकारी दलबल के साथ तोड़ फोड़ करने पहुंचे और बिना कार्यवाही के खाली लौट गए। कुछ दिनों तक निर्माण रुकने के बाद भवन बनकर तैयार हो गया है।

पार्किंग की जगह दूकान, सड़क पर पार्किंग-

निगम के जोन कार्यालय दो में व्यापारी जवाहर तलरेजा और प्रकाश खेमानी ने नियमो की अवहेलना करते हुए तीन मंजिला दूकान बना दिया। निगम दस्तावेजों के अनुसार बेसमेंट, पार्किंग, गोदाम और दो मंजिला भवन बनाने की अनुमति थी पर दोनों ने अनुमति से 300 वर्ग मीटर ज्यादा निर्माण कर दिया। ना पार्किंग बनाया ना गोदाम जिससे गाड़ीया सड़क पर पार्क होती है। निगम ने दोनों का राजीनामा निरस्त कर नियमो के विपरीत चार नोटिस जारी कर चुकी है जबकि तीन नोटिस के बाद निगम कार्यवाही के लिए स्वतंत्र है।

निगम कार्यालय के सामने अवैध निर्माण-

 

नगर निगम जोन दो कार्यालय के समाने बिल्डर ने सभी नियमो को धता बताते हुए पिथलिया काम्प्लेक्स खड़ा कर दिया। नियमो के विपरीत अवैध निर्माण किया गया है, जिसे आते जाते रोज निगम अफसर और कर्मचारी देखते है पर मजाल है की निगम प्रशासन कार्यवाही सके।

राजधानी में बड़ी संख्या में कारोबारियों अवैध निर्माण किया है जिस पर सख्त कार्यवाही की जरुरत है। निगम प्रशासन की सुस्त व्यवस्था राजधानी में धड़ल्ले अवैध निर्माण हो रहा है।

 

 

अवैध निर्माण की शिकायत संचालक और सचिव से, जोन कमिश्नर पर संरक्षण का आरोप.. नामजद हुई शिकायत

About the author

THEINDIPENDENT.COM

Add Comment

Click here to post a comment

-Ad-

Follow Me

Advertisement

-Ad-

Exclusive News

-Ad-

error: Content is protected !!