बड़ी खबर विशेष

Exclusive “कोरोना नहीं जाने वाला, वो हमारे बीच में ही रहेगा… आगामी दिनों में लॉक डाउन से कोई फायदा नहीं.. कोरोना को लेकर क्या कहा स्वास्थ्य मंत्री ने..पढ़े

रायपुर– प्रदेश में कोरोना संक्रमण तेज गति से फ़ैल रहा है। प्रदेश में कोरोना संक्रमितों का आकड़ा 1300 को पार कर गया है। ऐसे में कोरोना को लेकर लोगो के मन में डर बना हुआ है जो बढते मरीजों के साथ लगातार बढ़ता जा रहा है।

कोरोना को लेकर Theindipendent.com के संपादक राहुल गोस्वामी ने प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव से बात की और आने वाले दिनों में सरकार का एक्शन प्लान क्या होगा, क्या दोबारा लॉक डाउन होगा?    रिकॉर्डेड बातचीत के प्रमुख अंश-

 

प्रश्न- सिंहदेव जी प्रदेश में कोरोना के मरीज लगातार बढ़ रहे है, ऐसे में सरकार की क्या तैयारी है?
सिंहदेव जी- राहुल जी, कोरोना बढ़ नहीं रहा है, इसकी टेस्टिंग हो रही है तो सामने आ रहा है इनके बीच से जो कोरोना लेकर आये है। इनमे दो चीजों में हमें अंतर करना चाहिए, ये भारत में नहीं फैला ये विदेश से जो लोग आये वहा से आया है। दूसरे दौर में तब्लीगी आये उनके साथ  संक्रमण आया, उन्हें कंटेन किया। तीसरे दौर में कोटा से जो बच्चे आये और उनके साथ जो मजदुर आये उन्हें कंटेन करना पड़ा। ये चौथा दौर है जो छत्तीसगढ में नहीं बढ़ रहा जो बाहर से आये है उनमे निकल रहा है। चिंता का विषय पांचवा दौर रहेगा जिसमे कोई बाहर नहीं गए, बिना कोई ट्रेवल हिस्ट्री के लोगो में कोरोना पाया जायेगा तब कहा जायेगा की कोरोना बढ़ रहा है।

प्रश्न- तब सरकार का रुख क्या होगा?
सिंहदेव जी- सरकार मरीजों को क्वारंटीन करेगी। ऐसे में में लोगो को नागरिक धर्म निभाते हुए खुद बचाव करना होगा। लोगो को खुद से जागरूकता लाना होगा, लोगो ने बहुत सहयोग दिया है, उन्हें समझना होगा।

प्रश्न- लॉकडाउन से कैसे देखते है, प्रदेश को कितना फायदा हुआ?
सिंहदेव जी- लॉक डाउन से फायदा हुआ है, तेज गति से बढ़ता कोरोना रुका है। एक कोरोना मरीज लगभग 425 लोगो को इफेक्ट कर सकता है वो लॉकडाउन से रुका रहा। मरीजों के परिवार के बीच ही एक सिमित क्षेत्र तक ही फैला। प्रदेश में लगभग साढ़े चार लाख लोग अन्य जगहों संक्रमित क्षेत्रो से आ रहे है उन्हें क्वारंटीन में रखना जरुरी है। ऐसे में लोग सरकारी नियमो का पालन नहीं करेंगे क्वारंटीन सेंटर से भागेंगे तो वही लोग दुसरो को कोरोना बाट देते है।

प्रश्न- सरकार अब आगे क्या करेगी?
सिंहदेव जी- देखिये सरकार की एक सीमा है, तब तक हम प्रयास करेंगे। हम लोगो को आग्रह करके उन्हें नियमो का पालन करने कहा जायेगा। दुकानों को बंद होने से आर्थिक समस्या होने लगी थी तब लोगो ने आर्थिक समस्याओ को लेकर सवाल किया, तब सरकार ने हर संभव उपाय किया। सरकार ने अपने स्तर में संभव कार्य किया है। अब नागरिको को सरकार का साथ देते हुए नियमो का पालन करते हुए कोरोना के फैलाव को रोकना होगा।

प्रश्न- तो आने दिनों में फिर दस -पंद्रह दिनों का एक बार फिर लॉकडाउन किया जायेगा?
सिंहदेव जी- देखिये लॉक डाउन अंसार नहीं है, क्योकि कोरोना नहीं जाने वाला। वो आपके हमारे बीच वायरस विद्यमान रहेगा। एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलेगा। वो हमारे बीच में कैरियर बनकर है। अगर हमने एक हफ्ते के लिए बंद किया और फिर खोला तो कोरोना जिन्दा रहेगा और फिर लोगो में फैलेगा। इसे रोकने का एक ही तरीका है लोग जागरूक होकर इसे रोकने में सहयोग करे तभी इसे रोका जा सकेगा। अन्यथा कोई भी सरकार इसे रोक नहीं पायेगी।

प्रश्न- कही कोई स्ट्रेटजी में में चूक हुई क्या ?
सिंहदेव जी- हां मै मानता ही स्ट्रेटजी बनाने में चूक हुई है, लॉकडाउन के पहले लोगो को अनाउंस कर देना था कि अपने घर चले जाओ या पहले लॉकडाउन के तीन हफ्ते बाद श्रमिक ट्रेन शुरू कर देनी थी। पर उन्हें अर्थव्यवथा चरमराने का डर था। वहा केंद्र सरकार मजदूरों को संक्रमित होने से रोक नहीं पाए। जब मजदुर पैदल चलने लगे तो केंद्र ने मजदुर ट्रेन चालू किया। जब ऐसी स्थिति निर्मित हुई तो स्थिति नियंत्रण से बाहर हुई। अब बाहर से आने वाले लोगो को क्वारंटीन किया जाये और लोगो को उसके नियमो का पालन करना होगा तभी बात बनेगी।

-Ad-

Advertisement

-Ad-

Exclusive News

Follow Me

-Ad-

error: Content is protected !!