छत्तीसगढ़ बड़ी खबर

शहीद को मुख्यमंत्री ने कंधा देकर किया विदा.. पहली बार दिखा ऐसा नजर,, गमगीन हुई लोगो की आंखे।।

रायपुर–  माना विमानतल पर गुरुवार को बेहद संवेदनशील नजारा दिखा, जब एक मुख्यमंत्री ने शहीद जवान को कंधा देकर विदा किया। आम तौर पर ऐसा नजारा कभी नहीं दिखा खासकर छत्तीसगढ़ के इतिहास में जहा नक्सली घटनाओ में लगातार जवान शहीद होते रहे है। छत्तीसगढ़ मे बीते 20 सालो में हजारो जवानो ने देश के लिए अपनी जान कुर्बान कर दिया उन्हें सत्तासीन श्रद्धांजलि अर्पित करते थे। पहली बार ऐसा नजारा दिखा की मुख्यमंत्री ने शहीद जवान को कंधा दिया हो।

भारत चीन सीमा पर एलएसी पर हुए हिंसक झड़प में देश के 20 बहादुर जवान शहीद हुए थे। जिसमे छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले के कुरूटोला ग्राम पंचायत के ग्राम गिधाली के लाल गणेश राम कुंजाम शामिल थे। शहीद गणेश का शव गुरुवार को सेना के विशेष विमान से राजधानी पंहुचा तो उन्हें श्रद्धांजलि देने सत्ता पक्ष और विपक्ष के नेताओ का ताँता लगा था। सभी ने शहीद को पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दिया। राज्यपाल अनुसईया उइके, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सहित कैबिनेट के सभी मंत्री तो विपक्षी दल से बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष विष्णु देव साय, पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह और नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने भी श्रधांजलि दी।

इन सबके बीच एक नज़ारे ने सबका ध्यान आकर्षित किया। शहीद के पार्थिव देह उसके गृह ग्राम भेजने के दौरान सामने आकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शहीद को कंधा दिया। ये देख सबकी आखे नम हो गई और ये वह मौजूद लोगो के लिए आश्चर्य भी था। क्योकि इससे पहले किसी ने ऐसा नज़ारा नहीं देखा था और ना ही किसी मुख्यमंत्री ने ऐसा नहीं किया। मुख्यमंत्री प्रोटोकॉल अंतर्गत फूल मालाओ तक सिमित रहते पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कँधा देकर मानवता का और अपने संवेदनशील होने का एक बार फिर परिचय दिया।

मुख्यमंत्री ने मौके से ही शहीद के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने और शहीद गणेश के नाम पर उसके स्कूल का नाम करण करने का घोषणा किया जहा शहीद गणेश पढ़े है। वही उनके पिता इतवारू राम कुंजाम को 20 लाख रुपये का चेक सहयोग के रूप में भेजा।

ये मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की संवेदनशीलता को दिखता है। पूर्ववर्ती सरकार में सैकड़ो नक्सल अटैक हुए जिसमे हजारो जवानो ने देश के लिए कुर्बानी दी पर ऐसा नजारा कभी नहीं दिखा। मुख्यमंत्री ने शहीद को श्रद्धांजलि देने के बाद कहा कि

श्री गणेश कुंजाम ने देश के लिए शहादत दी है, ऐसे महान सपूत पर हम छत्तीसगढ़वासियों को गर्व है। उनकी शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी। हम सब देश के साथ है, सेना के साथ है और जवानों के साथ है।”

 

 

ईओडब्लू में शिकायतों का लगा अंबार, वर्षो से अधूरी जाँच,, भ्रष्टाचारियों पर नहीं कस रहा क़ानूनी शिकंजा!

About the author

THEINDIPENDENT.COM

Add Comment

Click here to post a comment

-Ad-

Advertisement

-Ad-

Exclusive News

Follow Me

-Ad-

error: Content is protected !!